MoviesPur के दिग्गज Bollywood को अपना समझते हैं।

0
195
MoviesPur
MoviesPur

MoviesPur के Bollywood में गुटबंदी

 

MoviesPur में Bollywood के कुछ दिग्गज़ Film Industry को अपनी जागीर समझने लग गए हैं।
शायद यह भूल गए हैं कि अंतिम फैसला दर्शक ही लेते हैं।

दर्शक सिनेमा तक नहीं जाएंगे तो आपको खाने को रोटियां तक नहीं मिलेंगी।
लक्जरी कार और घर तो भूल ही जाइए।

Bollywood Waale
Bollywood Waale

आपकी एशो आराम की जिंदगी से हमें कोई आपत्ती नहीं है।
किन्तु जिनके पैसों से आप यह ज़िंदगी जी रहें हैं।

उनके बच्चे जब MoviesPur में अपनी जगह बनाने जातें हैं।
तो उनके पीछे सिर्फ़ उनके या उनके परिवार के ही सपने नही होते हैं।

बल्कि पूरे गांव के सपने लेकर जाते हैं। जब उनके वह सपने पूरे होते हैं तो सिर्फ़ उस व्यक्ति को ही खुशी नहीं होती है।
बल्कि पूरे गांव में खुशियों की होली और दीवाली एक साथ मनाई जाती है।

 

MoviesPur वालो इतना मत गिरो

Sushant Singh Rajput
Sushant Singh Rajput

इतना भी नही गिरना चाहिए कि कोई उठा भी ना सके।
जिनके पैसों से आपकी फिल्में हिट होती हैं।

उनके बच्चे जब Bollywood में अपनी जगह बनाने में कामयाब हो जाते हैं।
तब आप उन बच्चों को इतना टॉर्चर कर देते हैं।

कि वह बच्चा आत्महत्या कर लेता है जिसका ताज़ा उदाहरण सुशांत सिंह राजपूत हैं।
आख़िर उस होनहार Actor ने किसी का क्या बिगड़ा था।

क्या उसका बेसुमार टैलेंट ही उसका अपराध था। Bollywood वालो आपसे दर्शक इतना प्यार करते हैं।

आपको उस प्यार की इज़्ज़त करनी चाहिए। इतना मत गिरो कि आप किसी को मुंह दिखाने लायक ना रहो।

सितारे बन कर उभरे हो सितारे बने रहो नहीं तो आप भी कंकर पत्थर की तरह ही ठोकरें खाओगे।

चांद दूर से ही अच्छा लगता है पास जाओ तो प्रथ्वी से अच्छा नहीं है।

 

Bollywood का बॉयकॉट करना होगा

UTV Stars Logo
UTV Stars Logo

अगर सब ऐसा ही चलता रहा तो Bollywood का बॉयकॉट करना ही होगा।
क्योंकि इस से पहले उनके बात समझ में नहीं आयेगी।

जब तक आप भाई भतीजे की फिल्में हिट कराते रहेंगे तब तक ये सब चलता रहेगा।
MoviesPur वालों को यह बताना होगा कि आपको बनाने वाले भी हम हैं।

और आपको उतारने वाले भी हम ही हैं। जो भी यह सोचता है कि हमारे अकेले के ना देखने से क्या होगा।
तो उनको बता दूं कि एक – एक गिनने से ही 135 करोड़ भारतीयों का परिवार बनता है।

और यह भी नहीं भूलना चाहिए कि कल आपका ही बेटा Actor बनने के सपने देख ले तब आप क्या करेंगे।
अभी से ही इनको सबक सिखाना होगा।

तभी तो कल किसी छोटे से गांव के नौजवान के सपने पर्दे पर सपने बुनते नज़र आयेंगे।
मैं यह सब इसलिए भी लिख रहा हूं क्योंकि मैंने भी एक सपना देखा है पर्दे पर आने का।

कल कोई सुशांत सिंह राजपूत फांसी ना लगाए।

इसलिए आपसे निवेदन करता हूं उन Bollywood वालो का Boykat करो।
जो Groupism करके Bollywood में अपना सिक्का चलाना चाहतें हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here